World poetry in hindi

Recent Posts

आद्रियाना लिस्बोआ की कविता : आत्मा को ऐसे धोएं

आत्मा को अपने हाथों से धोना चाहिए.इसलिए नहीं कि वह बहुत नाजुक होती हैऔर रंग छोड़ती है.इसके उलट, वह बेहद मजबूत कपड़े से बनी होती हैऔर उसे साफ करने का एक ही तरीका है किउसे हाथों से धोया जाए. एक घरेलू साबुन लें- अच्छा होगा कि सबसे सस्ता वाला.ब्लीच, फैब्रिक

Read More »

इल्या कामिन्स्की की कविता

और जब वे दूसरों के घरों पर बम बरसा रहे थे,हमने विरोध तो किया, लेकिन पर्याप्त नहीं.हमने उनका विरोध किया, लेकिन पर्याप्त नहीं.मैं अपने बिस्तर में था,मेरे बिस्तर के इर्द-गिर्द अमेरिका भहराकर गिर रहा था :अदृश्य मकान-दर-अदृश्य मकान-दर-अदृश्य मकान.मैंने घर के बाहर कुर्सी रखी और सूरज को देखता रहा.तबाही मचानेवाली

Read More »
Jaime Sabines translated by Geet Chaturvedi

ख़ाइमे साबिनेस (Jaime Sabines) की कविताएँ

ख़ाइमे साबिनेस (Jaime Sabines,1926-1999) मेक्सिको के कवि थे। नोबेल पुरस्‍कार विजेता कवि ओक्‍तावियो पास (Octavio Paz) उन्‍हें ‘स्‍पैनिश भाषा के सर्वश्रेष्‍ठ समकालीन कवियों में से एक’ मानते थे। स्‍पैनिश में उनकी कविता की दस किताबें प्रकाशित थीं। उन्‍होंने गद्य कविता में अधिक काम किया, लेकिन यह भी तथ्‍य है कि

Read More »

Popular Categories

en_USEnglish